प्रधानमंत्री उजाला योजना में अब तक 31 करोड़ LED बल्ब वितरित हुए

प्रधानमंत्री उजाला योजना


प्रधानमंत्री उजाला योजना के अंतर्गत देश में अब तक 31.01 करोड़ LED बल्ब वितरित कर दिए गए हैं, जिससे 3,26,23,218 टन प्रतिवर्ष तक की CO2 उत्सर्जन में कमी आई है। इस हिसाब से 16,110 करोड़ रुपये से ज्यादा प्रतिवर्ष बचत हुयी तथा 40276 mn kWh से ज्यादा प्रतिवर्ष ऊर्जा की बचत भी हुयी।

उजाला योजना का उद्देश्य (OBJECTIVE OF UJALA SCHEME):

इस योजना के तहत देश भर में एलईडी बल्ब के उपयोग को बढ़ावा देना है। ताकि देश में होने वाले बिजली की खपत को कम किया जा सके तथा बिजली का प्रयोग देश की प्रगति हेतु अन्य क्षेत्रों जैसे कृषि सिंचाई, फैक्ट्री आदि में बिजली का भरपूर उपयोग किया जा सके। इस योजना के सफलता पूर्वक क्रियान्वयन से सरकार द्वारा हर घर बिजली 24 घंटे देने के लक्ष्य को प्राप्त करने में भी सहायता मिलेगी।

प्रधानमंत्री उजाला योजना में अब तक 31 करोड़ LED बल्ब वितरित हुए
प्रधानमंत्री उजाला योजना

उजाला योजना की विशेषतायें (FEATURES OF UJALA SCHEME):

  • इस योजना के तहत एलईडी बल्ब के उपयोग से बिजली की खपत में कमी आएगी।
  • बिजली के ज्यादा खपत से उत्सर्जित कार्बन की मात्रा में भी कमी आएगी, जिससे पर्यावरण की भी सुरक्षा होगी।
  • इस योजना के तहत इन बल्बों पर सरकार द्वारा 2.5 -3 वर्ष की गारेंटी के साथ एलईडी बल्बों के कीमत पर सब्सिडी दे रही है,जिसके कारण एल ई डी बल्ब बाजार मूल्य से 40% कम मूल्य पर उपलब्ध होंगे।
  • इस योजना के द्वारा देशवासियों को बिजली की खपत कम करने के लिए जागरूक करना है।
  • इस योजना के तहत सब्सिडी देने का मकसद एलईडी बल्ब के उपयोग को बढ़ावा देना है।

आपको बता दें की, यह योजना ‘बचत लैम्प योजना’ के स्थान पर भारत के प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने शुरू की थी। इस योजना के अन्तर्गत एक वर्ष के अन्दर ही 9 करोड़ एलईडी बल्बों की बिक्री हो गयी थी, जिससे लगभग 550 करोड रूपये के बिजली बिल की बचत भी हुई थी।


प्रधानमंत्री उजाला योजना