कुम्भ मेला 2019 में अनारक्षित टिकटों में 15 दिन की अग्रिम बुकिंग की सुविधा

कुम्भ मेला 2019 में अनारक्षित टिकटों में 15 दिन की अग्रिम बुकिंग की सुविधा


भारत के रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कुम्भ मेला 2019 के लिए महत्वपूर्ण घोषणा की है। भारतीय रेलवे ने आगामी कुम्भ मेला 2019 में आने वाले श्रद्धालुओं तथा पर्यटकों की सुविधा के लिए अनारक्षित (UTS) टिकटों की 15 दिन की अग्रिम बुकिंग की सुविधा प्रदान की है। ये सुविधा प्रयागराज क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले 11 रेलवे स्टेशनों से मिलेगी।

हिंदू धर्म में कुंभ (Kumbh) मेला एक महत्‍वपूर्ण पर्व के रूप में मनाया जाता है, जिसमें देश-विदेश से सैकड़ों श्रद्धालु कुंभ पर्व स्थल हरिद्वार, इलाहाबाद, उज्जैन और नासिक में स्नान करने के लिए एकत्रित होते हैं। कुंभ का संस्कृत अर्थ कलश होता है। हिंदू धर्म में कुंभ का पर्व 12 वर्ष के अंतराल में आता है।

प्रयाग में दो कुंभ मेलों (Kumbh Mela) के बीच छह वर्ष के अंतराल में अर्धकुंभ भी होता है। कुंभ का मेला मकर संक्रांति के दिन प्रारम्भ होता है। इस दिन जो योग बनता है उसे कुंभ स्नान-योग कहते हैं। हिंदू धर्म के अनुसार मान्‍यता है कि किसी भी कुंभ मेले में पवित्र नदी में स्‍नान या तीन डुबकी लगाने से सभी पुराने पाप धुल जाते हैं और मनुष्‍य को जन्म-पुनर्जन्म तथा मृत्यु-मोक्ष की प्राप्‍ति होती है


कुम्भ मेला 2019 में अनारक्षित टिकटों में 15 दिन की अग्रिम बुकिंग की सुविधा <